• होली (मार्च)

  •  

    नेह के गांव
     श्रीरमन
    मूल्य रू 100/- (डाक व्यय अतिरिक्त)
     भोला नाथ 'अधीर'
     संक्षिप्त परिचय
    मूल्यांकन 17 फरवरी, 2004

     

       होली का है आ गया, अति सुन्दर त्योहार |
        मस्ती का, हुडदंग  का चढने लगा बुखार ||
       चढने लगा बुखार, देवरों की शामत |
       बूढी और जवान भाभियाँ बनती आफत ||
        करके कुछ संकेत, सभी कर रहीं ठिठोली |
        सावधान रहना देवर जी! आई होली ||

     

      1330 बार देखा
    अति-उत्तमउत्तमसामान्य

      शेष प्रविष्टियां

     श्रीनारायण अग्निहोत्री "सनकी"745 बार देखा गया  
    17 फरवरी, 2004  
     भोला नाथ 'अधीर'1330 बार देखा गया  
    17 फरवरी, 2004  
     नन्द कुमार मनोचा1568 बार देखा गया  
    14 फरवरी, 2004  
    उद्गार
     श्रीरमन
    मूल्य रू 25/- (डाक व्यय अतिरिक्त)

    त्रेता की अंतर्व्यथा
     श्रीरमन
    मूल्य रू 100/- (डाक व्यय अतिरिक्त)

    शब्द परिमल
     श्रीरमन
    मूल्य रू 50/- (डाक व्यय अतिरिक्त)


    (c) 2003-2004 All rights reserved
    Software Techno Center(STC),India