जंगल की भैरवी
 राम गुलाम रावत
मूल्य रू 100/- (डाक व्यय अतिरिक्त)

त्रेता की अंतर्व्यथा
मूल्य रू 100/- (डाक व्यय अतिरिक्त)
 श्रीरमन
 

सम्मति

       कहने की आवश्यकता नहीं कि सहज  - भाव सौष्ठव एवं शिल्प विधान की दृष्टि से 'त्रेता की अतंर्व्यथा' एक मनोरम काव्य - कृति है | जहाँ कहीं भावों के अभिव्यंजन में विस्तार - बिखराव या उलझाव लक्षित होता है , वह भी विरह विह्वल मानसिक असंतुलन की यर्थाथ  प्रस्तुति की दृष्टि से सोद्देश्य और सार्थक है |  भाषा  भावानुवर्तिनी और काव्योपम है | यथा स्थान तत्सम- तद्भव  आदि शब्दों का विन्यास भावानुरूप प्रभावसृष्टि में सहायक हुआ है | शैली में नाटकीय भंगिमा, वक्रता तथा स्वाभाविक अलंकृति  है | छन्दमुक्त काव्य होने पर भी इसमें प्रायः प्रवाहमय - लयबंध की सरसता है | सम्पूर्ण काव्य- कृति में आद्योपांत सीता-राम  के पारस्परिक अद्वय -आकर्षण  एवं प्रीत-प्रतीत की तीब्रानुभूतिमयी एक विशिष्ट अंर्तधारा प्रवाहमान है, जो इस  काव्य का सर्वाधिक  मह्त्वपूर्ण अभ्यांततिक पक्ष है |  इस प्रकार यह काव्य - कृति स्पृहणीय बन गयी है | यह सर्वदा स्वागत योग्य है |

डॉ0 उमाशंकर शुक्ल 'शितिकंठ'
रीडर , हिन्दी विभाग
श्री जयनारायण स्नातकोत्तर कॉलेज ,
लखनऊ

अंधेरे भी उजाले भी
  कुंवर कुसुमेश
मूल्य रू 100/- (डाक व्यय अतिरिक्त)

अरुणिमा
अंशुमाली
मूल्य रू 110/- (डाक व्यय अतिरिक्त)

बडे वही इंसान
डण्डा लखनवी
मूल्य रू 50/- (डाक व्यय अतिरिक्त)


(c) 2003-2004 All rights reserved
Software Techno Center(STC),India