काव्य-नीहारिका
डॉ0 मिर्ज़ा हसन नासिर
मूल्य रू 30/- (डाक व्यय अतिरिक्त)

नेह के गांव
मूल्य रू 100/- (डाक व्यय अतिरिक्त)
 श्रीरमन
 

सम्मति

         इस कृति में अनेक ऐसे छ्न्द हैं जिन्हें उदाहरण के रूप में प्रस्तुत किया जा सकता है परन्तु भूमिका का अधिक विस्तार उचित नहीं प्रतीत होता है | श्री रमन जी ने अत्यधिक संवेदनशील कवि हृदय पाया है | आप की गहन आंतरिक अनुभूतियाँ सीधे मर्म को प्रभावित करती हैं | रचनाओं की सहजता बरबस काव्य रसिकों को अपनी ओर आकृष्ट कर लेती है | अनुप्रास, यमक, श्लेष, उपमा, रूपक, सांगरूपक एवं अपन्हुति आदि अलंकारों की स्वाभाविक छटा छ्न्दों में विद्यमान है | खड़ी बोली में कोमल शब्दावलि का प्रयोग कवि की सशक्त काव्य प्रतिभा का परिचायक है | छ्न्दों में पूर्ण प्रवाह है | यह  कृति हिन्दी साहित्य जगत में अपनी अमिट छाप छोड़ेगी ऐसा मेरा विश्वास है |

अशोक कुमार पाण्डेय 'अशोक'
संपादक : ब्रज कुमुदेश (त्रैमासिकी)

चेतना स्रोत(त्रैमासिक)
विकल
मूल्य रू 15/- (डाक व्यय अतिरिक्त)

बडे वही इंसान
डण्डा लखनवी
मूल्य रू 50/- (डाक व्यय अतिरिक्त)

हे योगेश्वर
बसंत
मूल्य रू 80/- (डाक व्यय अतिरिक्त)


(c) 2003-2004 All rights reserved
Software Techno Center(STC),India